EMI par Bike Loan kaise le बाइक ऋण कैसे लेते है- Interest Rate-Documentation

EMI par Bike Loan kaise le? बाइक ऋण कैसे लेते है?- Interest Rate-Documentation

Auto Loan

EMI Bike Loan kaise le? – बाइक ऋण कैसे लेते है? ?

दोस्तों, आज की इस भाग-दौड़ जिंदगी में समय की अहमियत हर कोई समझता है। इसलिए हर व्यक्ति निजी वाहन रखकर यात्रा में कम-से-कम समय खर्च करना चाहता है। एक आम मीडिल क्लास भारतीय के लिए कार को खरीदना शायद मुमकिन नहीं इसलिए इनका सबसेे पसंदीदा वाहन टू-व्हीलर है। नैकिन, सभी लोगों के पास इतना Cash नहीं होता है कि वे एक बार में जाकर बाइक खरीद सकें। ऐसे में सबसे बेहतरीन उपाय है, टू-व्हीलर (EMI पर Bike Loan Kaise le) लोन के माध्यम से फांइनांसिंग यानि के बाइक लोन लेना।

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको EMI पे Bike Loan kaise Le और बाइक लोन लेते समय कौनसी बातो का ध्यान रखा जाता है, बाइक लोन पैर ब्याज दर क्या लगेगा, डॉक्यूमेंट के देने होंगे, Bike loan कितना मिल सकता है और बाइक लोन भरपाई न होने पर क्या होता है ये सब कुछ आपको विस्तारसे बताने जा रहे है.

Also read – लोन के लिए क्रेडिट स्कोर कितना होना चाहिए? और कैसे चेक करें? क्रेडिट स्कोर क्या है? जानिए सिर्फ 2 मिनिट मे – Loan ke liye credit score kitna hona chahiye?

बाजार मे अनेक तरह की बाइके है जिनकी किमत भी अलग अलग होती है। हर किसी के पास इतना बजट नहीं होता है जिससे बाईक खरीद सकें। यदि आप भी बाइक लेना चाहते हैं मगर इतने पैसे नहीं हैं जिनसे बाइक खरीदी जा सकें तो आप लोन (EMI) का सहारा ले सकते हैं।

दोस्तों, आज के समय में बाइक के लिए टू-व्हीलर लोन लेना अब मुश्किल नहीं रह गया है। जिनका क्रेडिट स्कोर कम है या लो सिबिल स्कोर(Cibil Score) है, वेे टू व्हीलर लोन ले सकते हैं।

बाइक किस्तों पर कैसे ले (EMI pe Bike Loan kaise le)

 

EMI par Bike Loan kaise le बाइक ऋण कैसे लेते है- Interest Rate-Documentation

 

दोस्तों, आज कल हमारे देश की नामांकिन बेंके से लगभग सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। जैसे की एजुकेशन लोन से लेकर वाहन लोन तक आप ऐसी बैंक से प्राप्त कर सकते हैं। स्टेट बैंक द्वारा SBI Bike Loan के लिए भी काफी आकर्षक ब्याज दर पर लोन प्रदान किया जाता है। हर बैंक की ब्याज दरों में व प्रोसेसिंग फीस में अंतर भी हो सकता है। आप दो पहिया वाहन ऋण प्राप्त करके कोई भी टू व्हीलर जैसे – स्कूटर , मोटरसाइकिल , मोपेड और बैटरी से चलने वाले वाहन को खरीद सकते हैं।

यहां पर आपको काफी कम ब्याज दर का भुगतान करना पड़ेगा। साथ ही आपसे बहोत काम प्रोसेसिंग फीस भी लगता है। SBI के दो पहिया वाहन ऋण की एक खास बात यह भी है। कि आपको यहां इस लोन के साथ निशुल्क दुर्घटना बीमा कवर भी प्रदान किया जाता है। जो कि आपके साथ होने वाली किसी अप्रिय घटना के समय में आपकी आर्थिक सहायता करने के लिए काम आ सकता है।

Bike Loan – टू-व्हीलर लोन के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातें:

दोस्तों, आज बैंक से Bike Loan मिनिमम डॉक्यूमेंट के साथ अप्रूवल हो जाता है। इसलिए bike लोन लेते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद आवश्यक होता है। जैसे कि लोन की अवधि, इंटरेस्ट रेट, भुगतान की शर्तें आदि। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि टू व्हीलर लोन सिक्योर होता है।

यदि आप ईएमआई नहीं देते हैं तो फाइनांस कंपनी आपके वाहन को जब्त कर सकती है और उसकी लागत की वसूली भी कर सकती है। इसलिए टू-व्हीलर लोन लेते समय इंटरेस्ट रेट और अवधि का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

टू-व्हीलर लोन लेने के लिए आपको कुछ मानदंडों को पूरा करना होता है, जो कि हर फाइनांस कंपनी का अलग-अलग होता है। हालांकि, कुछ ऐसे मानदंड हैं, जो अधिकांश फाइनांस कंपनियाँ अपनाती हैं।

Bike Loan की Eligibility क्या है?

रोजगार की स्थिति: लोन लेने वाला व्यक्ति वेतनभोगी या बिजनेस करने वाले हो सकते हैं। यदि वे टू-व्हीलर लोन लेना चाहते हैं तो उन्हें रोजगार या आय के स्रोत का प्रमाण देना होगा।

  1. वेतन: टू-व्हीलर लोन के आवेदन के समय छह महीने की आय प्रमाण या वेतन क्रेडिट प्रमाण देना होता है।
  2. पहचान प्रमाण पत्र: टू-व्हीलर लोन के लिए आवेदन करते समय पहचान और पते का सबूत देना अनिवार्य है।
  3. लोन लेने वाले व्यक्ति की आयु 21 साल से 60 साल के बीच होनी चाहिए।
  4. आवेदनकर्ता की नौकरी या अपना बिजनेस होना चाहिए।
  5. नौकरी करने वाले व्यक्ति की वार्षिक आय 84000 रूपए होनी चाहिए।
  6. Self Employed के लिए वार्षिक आय 72000 रूपए होनी चाहिए।
  7. आवेदनकर्ता अपने वर्तमान निवास स्थान पर कम से कम साल से रहता होना चाहिए।
  8. नौकरी करने वाला व्यक्ति को नौकरी करते हुए कम से कम साल होना चाहिए।
  9. सिबिल स्कोर अच्छा होना चाहिए।

Bike Loan कितना मिल सकता है?

दोस्तों, हर बैंक या नान बैंकिंग संस्थान की लोन देने की सर्ते अलग हो सकती है कोई बैंक बाइक की कीमत का 70% लोन देती है तो कोई 90 प्रतिशत तक भी बाइक लोन देती है। ज्यादातर बैंक लोन बाइक की एक्स शोरूम कीमत पर देते है। बैंक या कंपनी के ऊपर भी निर्भर है कि वह शोरूम प्राइस पर लोन देते हैं या आन रोड प्राइस पर लोन मुहैया करते हैं।

उदाहरण के लिए – 

मानकर चलिए आप Rs. 85000/- की बाइक खरीदना चाहते हैं। जिसके लिए आप किसी बैंक से लोन लेते हैं। बैंक आपको 80% लोन देगा तो आपको मिलने वाला लोन होगा-

85000×80%=68000 रूपये – बाकी शेष बचने वाली रकम होगी

85000-68000=17000 रूपए

इस प्रकार आपको Rs. 85000/-  की बाइक लेने पर 68000 रूपए का लोन मिल सकता है वहीं Rs.17000/- जिसे Down Payment कहते हैं ये आपको बाइक लेते समय cash चुकाने होंगे।

हर बैंक के नियम व शर्ते अलग होती है जरूरी नहीं है कि आप किसी भी बैंक से लोन ले वो आपको 90 प्रतिशत लोन मुहैया कराये। यह कम व ज्यादा भी हो सकता है।

Bike loan Interest Rate (बाइक पर लोन पे कितना ब्याज लगता है?

Bike Loan पर बैंक की ब्याज दर अन्य नान बैंकिंग संस्थानों की ब्याज दर से कम होती है। प्राइवेट सेक्टर के बैंकों की ब्याज दर भी सामान्यतः अधिक होती है। वैसे यदि आप टू व्हीलर लोन लेते हैं तो आपको लगभग 8 % से 16% वार्षिक ब्याज दर पर लोन चुकाना होगा। लोन की ब्याज आपके सिबिल स्कोर पर भी निर्भर करती है। यदि आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो आपको कम ब्याज दर पर भी लोन मिल सकता हैं। खराब स्कोर होने पर ब्याज दर ज्यादा हो सकती है।

बाइक लोन का समय-

Bike loan कराने के बाद आपको यह लोन न्यूनतम 12 महीने व ज्यादा से ज्यादा 60 महीने के लिए मिलता है। कुछ बैंक इससे ज्यादा समय के लिए भी लोन देते हैं। लोन की किस्त जितने कम रूपये की होगी लोन चुकाने मे उतना समय ज्यादा लगेगा।

Bike loan के लिए कौन-कौन से दस्तावेज जरूरी है?(Documentation for Bike loan)

बाइक लोन या टू व्हीलर लोन लेने के लिए आपको जरूरी दस्तावेजों के बारे मे जानकारी होना जरूरी है। यदि आप टू व्हीलर लोन ले रहे हैं जिसमें कोई डाक्यूमेंट नहीं है तो आपको लोन लेने मे देरी हो सकती है। नौकरी करने वाले और अपना व्यवसाय करने वालों के लिए अलग अलग दस्तावेजों की आवश्यकता पड सकती है। आमतौर पर बाइक लोन लेने के लिए आपको इन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है-

  • एड्रेस प्रूफ- पते का प्रमाण पत्र जैसे – राशन कार्ड , बिजली बिल , टेलीफोन बिल , पासपोर्ट अथवा आधार कार्ड की कॉपी
  • पहचान पत्र जैसे – पासपोर्ट , पैन कार्ड , वोटर आईडी कार्ड , आधार कार्ड आदि की कॉपी एवं ओरिजिनल
  • पेनकार्ड
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो
  • इनकम प्रुफ Form 16, या इनकम टैक्स रिटर्न or पिछले छः महीने का बैंक स्टेटमेंट या सैलरी स्लिप

Bike loan भरपाई ना करने पर क्या होगा?

  1.  ध्यान रहे कि टू व्हीलर लोन सुरक्षित लोन की श्रेणी में आता है। यदि आप लोन नही चुकाते है तो लोन देनी वाली कंपनी आपका वाहन जब्त कर सकती हैं।
  2. लोन ना चुकाने पर आपका लोन सिबिल स्कोर पर नाकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जिसके कारण आपको भविष्य में लोन लेने मे मुश्किलें आ सकती है।
  3. लोन की किस्त ना चुकाने पर आपको अतिरिक्त शुल्क देना पड़ सकता है।
  4. लोन ना चुकाने पर फाइनेंस कंपनी आपसे वाहन की लागत वसूल सकती हैं।

दोस्तो मुझे आशा है की इस Tutorial मैंने EMI पे बाइक लोन कैसे लिया जाता है(Bike Loan kaise le in Hindi) इस के बारे मे पूरी जानकारी दी है और आशा करता हु की आप को Union Bank of India se Loan kaise le इनके बारेमे समझ आ गया होगा।

यदि अभी आपके मन मे इसको लेकर कोई भी doubts है, या आप चाहते है की इसमे कुछ सुधार की जरूरत है तो  आपा नीचे comments मे लिख सकते है। आपके इस सुजावसे हमे कुछ और सीखने और कुछ सुधार का मौका मिलेगा। यदि आपको हमारे यह पोस्ट “EMI par Bike Loan kaise le” अच्छा लगा हो या इससे आपको कुछ सीखने को मिला हो तो, अपनी प्रसनता और उत्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Media जैसे की Facebook, Twitter, Instagram और Whatsapp इत्यादिक पर Share जरूर कीजिए। धन्यवाद।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.